कुछ चौंकाने वाले क्रिकेट रिकॉर्ड क्या हैं जिनके बारे में आप नहीं जानते होंगे?

क्रिकेट, जिसे अक्सर आँकड़ों और रिकॉर्डों से भरा खेल माना जाता है, ने उल्लेखनीय उपलब्धियाँ देखी हैं जिन्होंने दुनिया भर के प्रशंसकों को आश्चर्यचकित और चकित कर दिया है। जहां कुछ रिकॉर्ड व्यापक रूप से ज्ञात हैं, वहीं कई कम-ज्ञात और आश्चर्यजनक रिकॉर्ड भी हैं जिन्होंने क्रिकेट प्रेमियों को आश्चर्यचकित कर दिया है। इस लेख में, हम कुछ सबसे चौंकाने वाले क्रिकेट रिकॉर्ड के बारे में जानेंगे जिनके बारे में आप नहीं जानते होंगे।

असाधारण व्यक्तिगत प्रदर्शन से लेकर विचित्र और असामान्य कारनामे तक, ये रिकॉर्ड अविश्वसनीय विविधता और अद्वितीय क्षणों को उजागर करते हैं जो क्रिकेट को इतना आकर्षक खेल बनाते हैं।

ब्रायन लारा का 400 नॉट आउट

Brian Lara

2004 में, वेस्ट इंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा ने एक टेस्ट पारी में 400 रन बनाने वाले पहले और एकमात्र क्रिकेटर बनकर इतिहास की किताबों में अपना नाम दर्ज कराया। लारा ने एंटीगुआ में इंग्लैंड के खिलाफ मैथ्यू हेडन के 380 के पिछले रिकॉर्ड को पीछे छोड़ते हुए यह उपलब्धि हासिल की। लारा की पारी की विशालता और इतनी लंबी अवधि तक एकाग्रता और कौशल बनाए रखने की उनकी क्षमता एक ऐसा रिकॉर्ड है जो क्रिकेट प्रशंसकों को आश्चर्यचकित करता है।

Also Read: क्रिकेट इतिहास के दस महानतम बल्लेबाज

जिम लेकर के एक टेस्ट मैच में 19 विकेट

Jim Laker

1956 में, इंग्लिश ऑफ स्पिनर जिम लेकर ने ओल्ड ट्रैफर्ड में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मैच के दौरान एक असाधारण उपलब्धि हासिल की। लेकर ने पहली पारी में सभी दस विकेट लिए और इसके बाद दूसरी पारी में नौ विकेट लिए, जिससे मैच 90 रन पर 19 विकेट के चौंकाने वाले आंकड़ों के साथ समाप्त हुआ। यह किसी टेस्ट मैच में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन है और एक ऐसा रिकॉर्ड है जिसे दोहराना लगभग असंभव लगता है।

सचिन तेंदुलकर के 100 अंतर्राष्ट्रीय शतक

Sachin Tendulkar

महान भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर की लंबी उम्र और निरंतरता उनके 100 अंतरराष्ट्रीय शतक बनाने के रिकॉर्ड से स्पष्ट होती है। तेंदुलकर ने खेल में अपने बेजोड़ कौशल, दृढ़ संकल्प और लंबी उम्र का प्रदर्शन करते हुए 2012 में यह उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल की। यह रिकॉर्ड इस खेल को गौरवान्वित करने वाले महानतम बल्लेबाजों में से एक के रूप में तेंदुलकर की स्थिति का प्रमाण है।

Also Read: क्रिकेट इतिहास के दस महानतम विकेटकीपर

एक टी20 मैच में क्रिस गेल के 175* रन

Chris Gayle

जमैका के बल्लेबाज क्रिस गेल ने 2013 में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए सिर्फ 66 गेंदों पर नाबाद 175 रन बनाकर एक चौंकाने वाला रिकॉर्ड बनाया। गेल की विस्फोटक पारी, जिसमें 17 छक्के और 13 चौके शामिल हैं, टी20 क्रिकेट में सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर है। उस पारी के दौरान गेल द्वारा प्रदर्शित की गई सरासर शक्ति और प्रभुत्व ने प्रशंसकों को आश्चर्यचकित कर दिया और खेल के सबसे छोटे प्रारूप में बल्लेबाजों के लिए एक मानक स्थापित किया।

मुथैया मुरलीधरन के 800 टेस्ट विकेट

Muttiah Murlidharan

टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड श्रीलंकाई स्पिन जादूगर मुथैया मुरलीधरन के नाम है। मुरलीधरन ने अपने टेस्ट करियर में शेन वार्न के पिछले रिकॉर्ड को पीछे छोड़ते हुए 800 विकेट लिए। मुरलीधरन के अद्वितीय गेंदबाजी एक्शन और स्पिन गेंदबाजी में महारत ने उन्हें दुनिया भर के बल्लेबाजों को चकमा देने और क्रिकेट के सर्वकालिक महान खिलाड़ियों में से एक के रूप में अपना नाम दर्ज कराने की अनुमति दी।

Also Read: क्रिकेट में प्रफुल्लित करने वाले क्षण

कर्टनी वॉल्श के बिना पांच विकेट के 519 टेस्ट विकेट

Courtney Walsh

वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज कॉर्टनी वॉल्श के नाम एक आश्चर्यजनक रिकॉर्ड है। 519 टेस्ट विकेट लेने के बावजूद, वॉल्श ने अपने शानदार करियर के दौरान कभी भी एक पारी में पांच विकेट लेने का कारनामा नहीं किया। यह रिकॉर्ड एक गेंदबाज के रूप में वॉल्श की निरंतरता और लंबी उम्र को उजागर करता है, क्योंकि वह पूरी तरह से विनाश पर भरोसा करने के बजाय अपनी सटीकता, सहनशक्ति और दबाव बनाने की क्षमता पर भरोसा करते थे।

शिवनारायण चंद्रपॉल के क्रीज पर लगभग 25,000 मिनट

वेस्टइंडीज के बल्लेबाज शिवनारायण चंद्रपॉल के नाम टेस्ट क्रिकेट में सबसे लंबे समय तक बल्लेबाजी करने का अनोखा रिकॉर्ड है। चंद्रपॉल ने अपने पूरे करियर में क्रीज पर 24,855 मिनट बिताए, शीर्ष श्रेणी के गेंदबाजों का सामना किया और अपनी टीम के लिए संघर्ष किया। यह रिकॉर्ड चंद्रपॉल के लचीलेपन, एकाग्रता और लंबे समय तक क्रीज पर बने रहने की क्षमता के बारे में बहुत कुछ बताता है।

Also Read: क्रिकेट इतिहास के सबसे बड़े विवादो पर एक नज़र

महिला अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में चार्लोट एडवर्ड्स के 10,273 रन

Charlotte Edwards

इंग्लिश क्रिकेटर चार्लोट एडवर्ड्स ने अपने शानदार करियर के दौरान महिला अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने का रिकॉर्ड बनाया। एडवर्ड्स ने खेल में अपने असाधारण बल्लेबाजी कौशल और लंबी उम्र का प्रदर्शन करते हुए सभी प्रारूपों में आश्चर्यजनक 10,273 रन बनाए। यह रिकॉर्ड महिला क्रिकेटरों की उपलब्धियों और खेल के विकास और लोकप्रियता पर उनके प्रभाव पर प्रकाश डालता है।

निष्कर्ष

क्रिकेट एक ऐसा खेल है जो रिकॉर्ड, आंकड़ों और अविश्वसनीय व्यक्तिगत प्रदर्शन पर पनपता है। ऊपर उल्लिखित रिकॉर्ड क्रिकेट के समृद्ध इतिहास में हासिल की गई चौंकाने वाली और आश्चर्यजनक उपलब्धियों के कुछ उदाहरण हैं। शानदार बल्लेबाजी पारियों से लेकर असाधारण गेंदबाजी प्रदर्शन तक, ये रिकॉर्ड उन खिलाड़ियों के कौशल, दृढ़ संकल्प और प्रतिभा को प्रदर्शित करते हैं जिन्होंने खेल की शोभा बढ़ाई है।

Leave a Reply

TheTopBookies