Yuzvendra Chahal

हमारें देश में समय-समय पर स्पिन गेंदबाजों ने अपना दबदबा कायम किया है जैसेकि अनिल कुंबले, हरभजन सिंह, नरेंद्र हिरवानी, इरापल्ली कृष्णा इत्यादि। आज हम आपकों ऐसे ही एक स्पिन गेंदबाज के बारें में बताने जा रहें है जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत का प्रतिधिनित्व एक नहीं बल्कि दो खेलों में किया है। जी हां, युजवेंद्र चाहल क्रिकेट के साथ-साथ शतरंज के भी खिलाड़ी रह चुके है। चलिए आज के इस आर्टिकल में हम आपकों युजवेंद्र चहल के बारें में बात करते है।

युजवेंद्र चहल का जीवन परिचय

युजवेंद्र चहल का जन्म 23 जुलाई 1990 को हरियाणा के जींद में हुआ था। चहल ने क्रिकेट खेलने से पहले वर्ल्ड युथ शतरंज चैंपियनशिप में भारत का प्रतिधिनित्व किया था लेकिन बाद में जब उन्हें कोई स्पॉन्सर नहीं मिला तो उन्होंने Chess खेलना छोड़ दिया। चहल घरेलू क्रिकेट में हरियाणा की तरफ से खेलते है। पेशे से लेग ब्रेक बॉलर चहल भारत के लिए टी-20 एवं एकदिवसीय मैच खेल चुके है।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में युजवेंद्र चहल

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे पहले चहल को जिम्बाब्वे दौरे पर जाने वाली 14 सदस्यों की टीम में चुना गया। युजवेंद्र ने 11 जून 2016 को जिम्बाब्वे के खिलाफ अपने एकदिवसीय क्रिकेट करियर की शुरुआत की जहां उन्होंने Richmond Mutumbami को अपना पहला शिकार बनाया था। श्रृंखला के दूसरे मैच में उन्होंने मात्र 26 रन देकर 3 विकेट झटके थे जिसकी वजह से भारत ने जिम्बाब्वे को 8 विकेट से करारी शिकस्त दी थी।

युजवेंद्र चहल ने अंतरराष्ट्रीय टी-20 में खेलने की शुरुआत 18 जून 2016 को जिम्बाब्वे दौरे पर ही की थी। 1 फरवरी 2017 को इंग्लैंड के खिलाफ हुए T-20 मैच में उन्होंने 25 रन देकर 6 विकेट झटके थे और किसी टी-20 मैच में पांच विकेट लेने वाले वो पहले भारतीय गेंदबाज बने थे। 2017 में टी-20 मैचों में चहल ने किसी भी गेंदबाज के मुकाबले सबसे ज्यादा विकेट हासिल किए थे,  उन्होंने 2017 में 23 विकेट हासिल किए थे।

अप्रैल 2019 में चहल का चयन विश्वकप 2019 के लिए हुआ था और 2019 विश्वकप में उन्होंने 12 विकेट प्राप्त किये थे। 4 दिसंबर 2020 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुए टी-20 मैच में जब रविंद्र जडेजा को concussion के चलते बाहर होना पड़ा तो उनकी जगह युजवेंद्र चहल को बतौर Concussion Substitute टीम में शामिल किया गया। मैच में बेहतरीन प्रदर्शन के लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच का खिताब मिला था। 2021 T20 विश्वकप के लिए युजवेंद्र चहल को भारतीय टीम में स्थान नहीं मिला जिसके बाद काफी विवाद भी छिड़ा था।

IPL में युजवेंद्र चहल

चहल IPL में सबसे पहले मुंबई इंडियंस के साथ जुड़े थे, 2011 नीलामी में चहल को मुंबई इंडियंस ने खरीद लिया था लेकिन पूरे टूर्नामेंट में चहल केवल एक मैच ही खेल सकें थे। 2011 चैंपियंस लीग Twenty-20 में चहल सभी मैच खेले थे और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाडी फाइनल मैच में उन्होंने 3 ओवर में 9 रन देकर 2 विकेट लिए थे। 2014 में चहल को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने 10 लाख रुपये में खरीद लिया था और उसके बाद लगातार 2021 के सीजन तक चहल रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की टीम से खेले थे।

2022 की मेगा नीलामी में राजस्थान रॉयल्स ने उन्हें 6.5 करोड़ में खरीद लिया था और इस साल IPL में चहल राजस्थान रॉयल्स की तरफ से खेल रहें है।

Leave a Reply Cancel reply