Yash Dhull

भारतीय अंडर-19 क्रिकेट टीम ने इस साल हुए अंडर-19 विश्व कप को जीता है और जिस एक खिलाड़ी ने सबसे ज्यादा प्रभावित किया वो है टीम के कप्तान यश ढुल। सुपरलीग सेमी फाइनल में वेस्टइंडीज के खिलाफ जड़े गए उनके द्वारा शतक की मदद से टीम इंडिया ने अंडर-19 विश्वकप फाइनल में जगह बनाई थी। दिल्ली के लिए अंडर-16 और अंडर-19 खेल चुके यश इस समय देश के उन प्रतिभाशाली क्रिकेटरों में से है जो भारत की सीनियर टीम के दरवाजे पर लगातार दस्तक दे रहें है। आज हम आपकों अंडर-19 विश्वविजयी कप्तान यश ढुल के बारें में बताने जा रहें है।

यश ढुल का जीवन परिचय

यश का जन्म 11 नवंबर 2002 को दिल्ली में हुआ था। दिल्ली के जनकपुरी में रहने वाले यश ने अपनी स्कूली पढ़ाई द्वारका के बाल भवन पब्लिक स्कूल से की है। यश ने क्रिकेट के गुर अपने कोच प्रदीप कोचर एवं राजेश नागर से सीखें है। अब तक यश इंडिया-ए, इंडिया अंडर-19, दिल्ली अंडर-16 एवं अंडर-19 से खेल चुके है। दाएं हाथ के बल्लेबाज होने के साथ ही वो राइट आर्म ऑफ ब्रेक गेंदबाज भी है। इनके पिताजी विजय ढुल प्राइवेट जॉब करते है जबकि इनकी माताजी नीलम ढुल ग्रहणी है।

कैसे शुरुआत हुई यश के क्रिकेट करियर की

यश को महज 4 वर्ष से ही क्रिकेट के प्रति रुचि बढ़ने लगी थी और उनके अंदर क्रिकेट को लेकर जुनून को सबसे पहले उनकी मां ने जाना था। घर की छत पर ही प्रैक्टिस करने वाले यश का सबसे पहले चयन दिल्ली अंडर-14 में हुआ था जब वो 12 वर्ष के थे। उनके पिताजी ने यश के सपने को पूरा करने के लिए अपनी सेल्स की नौकरी छोड़ कर पार्ट टाइम जॉब करनी शुरू कर दी थी। इसी बीच बहुत समय तक तो यश के घर की आर्थिक स्थिति काफी खराब हो गई थी लेकिन यश ने हिम्मत ना हारते हुए लगातार कोशिशें जारी रखी।

कैसे पहुंचे अंडर-19 की कप्तानी तक

जब यश का चयन अंडर-14 में हुआ तब से ही यश ने जबरदस्त खेल दिखाना शुरू कर दिया था और लगातार हर स्तर पर बेहतरीन खेल दिखाने लगे थे। 11 वर्ष से ही खेलना शुरू करने वाले यश ने अंडर-14 और अंडर-16 में भारत का प्रतिधिनित्व किया था। जिसके बाद उन्हें दिसंबर 2021 में अंडर-19 2022 विश्वकप के लिए भारतीय टीम का कप्तान घोषित किया गया। अपने बेहतरीन खेल और कप्तानी की बदौलत उन्होंने भारत को अंडर-19 विश्व कप जीतने में अहम योगदान दिया।

यश का क्रिकेट करियर

यश ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में पर्दापण 17 फरवरी 2022 के दिन रणजी ट्रॉफी के मैच जोकि तमिलनाडु के खिलाफ था, से किया था। उन्होंने अपने डेब्यू फर्स्ट क्लास मैच की दोनों परियों में शतक जड़ा था। 2021-22 के रणजी सत्र में यश दिल्ली के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बने और उन्होंने 119.75 की औसत से 479 रन बनाए जिसमें 3 शतक शामिल थे। इसी रणजी सत्र में उन्होंने छत्तीसगढ़ के खिलाफ नाबाद दोहरा शतक लगाया था।

IPL में यश ढुल

अंडर-19 विश्वकप 2022 में बेहतरीन खेल दिखाने वाले यश को दिल्ली कैपिटल्स ने 2022 के IPL सीजन के लिए 2022 मेगा नीलामी में खरीद कर अपनी टीम में शामिल कर लिया था।

Leave a Reply

TheTopBookies
DOWNLOAD Cricketwebs APP