Washington Sunder

वाशिंगटन सुंदर भारत के लिए टी-20 मैचों में सबसे कम उम्र में डेब्यू करने वाले खिलाड़ी बने है। ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की तरह वाशिंगटन सुंदर भी चेन्नई के रहने वाले है और उन्हीं की तरह एक ऑफ स्पिनर है। वाशिंगटन सुंदर ने बहुत ही कम समय में भारत के लिए तीनों फॉर्मेट में डेब्यू करने के साथ-साथ बेहतरीन प्रदर्शन भी दिखाया है। 2021 में ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर जब भारतीय टीम के मुख्य खिलाड़ी चोटिल हो गए थे तो नेट बॉलर के रूप में ऑस्ट्रेलिया गए वाशिंगटन सुंदर ने चौथे टेस्ट मैच में पर्दापण किया और पहली ही पारी में अर्धशतक लगाया और उन्होंने शार्दूल ठाकुर के साथ 123 रनों की अहम साझेदारी निभाई थी।

वाशिंगटन सुंदर का जीवन परिचय

वाशिंगटन सुंदर का जन्म 5 अक्टूबर 1999 को तमिलनाडु के चेन्नई में एक हिंदू परिवार में हुआ था। इनके पिताजी का नाम एम सुंदर है जबकि इनकी बहन शैलजा सुंदर भी एक पेशेवर क्रिकेटर रह चुकी है। सुंदर ने क्रिकेट खेलने की शुरुआत मात्र 4 वर्ष से ही कर दी थी। उन्होंने अपनी स्कूली पढ़ाई St. Bede’s Anglo Indian Higher Secondary School से की है।

वाशिंगटन सुंदर का घरेलू क्रिकेट में पर्दापण

सुंदर ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में डेब्यू तमिलनाडु के लिए 2016-17 की रणजी ट्रॉफी में किया था। अक्टूबर 2017 में त्रिपुरा के खिलाफ रणजी ट्रॉफी के मैच में सुंदर ने अपना पहला प्रथम श्रेणी शतक जड़ा था। इससे पहले सुंदर अंडर-19 विश्वकप के लिए टीम इंडिया में शामिल हो चुके थे।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वाशिंगटन सुंदर

वाशिंगटन सुंदर को उनके साथी खिलाड़ी प्यार से वाशी बुलाते है। नवंबर 2017 में सुंदर का चयन श्रीलंका के खिलाफ होने वाली टी-20 सीरीज के लिए हुआ था। इससे पहले श्रीलंका के खिलाफ हुई एकदिवसीय श्रृंखला में भी सुंदर का चयन हुआ था जब केदार जाधव चोट की वजह से बाहर हो गए थे। सुंदर ने अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय मैच में अपना पर्दापण 13 दिसंबर 2017 को श्रीलंका के खिलाफ किया था। सुंदर ने टी-20 डेब्यू 24 दिसंबर 2017 को श्रीलंका के खिलाफ किया था।

मार्च 2018 में सुंदर को श्रीलंका एवं बांग्लादेश के साथ होने वाली निधास ट्रॉफी के लिए टीम इंडिया में चुना गया था। पूरे टूर्नामेंट में काफी किफायती गेंदबाजी करने की वजह से हर जुबान पर उनका नाम था और इसी प्रदर्शन की बदौलत उन्हें प्लेयर ऑफ द सीरीज का खिताब भी मिला था। भारतीय टीम के 2020-21 ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए उन्हें बतौर नेट गेंदबाज के रूप में शामिल किया गया था लेकिन एक के बाद एक मुख्य खिलाड़ियों के चोटिल होने की वजह से उन्हें टेस्ट मैचों में डेब्यू करने का अवसर मिला और उन्होंने इस अवसर को बेहतरीन तरीके से भुनाया। उनके बेहतरीन प्रदर्शन की वजह से टीम इंडिया को उस मैच में जीत हासिल करने में सफलता मिली।

Indian Premier League में वाशिंगटन सुंदर

2017 के IPL सीजन से सुंदर के IPL करियर की शुरुआत हुई थी, इस सीजन में उन्हें राइजिंग पुणे सुपरजायंटस ने अपनी टीम में शामिल किया था और उन्होंने IPL में 22 अप्रैल 2017 को डेब्यू किया था। IPL 2017 के पहले क्वालीफ़ायर में मुंबई इंडियंस के खिलाफ उन्होंने 16 रन देकर 3 विकेट झटके जिस वजह से उन्हें मैन ऑफ द मैच का अवार्ड मिला था। जनवरी 2018 में सुंदर रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु से जुड़ गए और 2021 सीजन तक उनकी तरफ से खेले। 2022 की मेगा नीलामी में सनराइजर्स हैदराबाद ने उन्हें अपने दल में शामिल कर लिया है।

Leave a Reply

TheTopBookies