Shardul Thakur

शार्दूल ठाकुर मध्यम गति के तेज गेंदबाज होने के साथ-साथ निचले क्रम के एक उपयोगी बल्लेबाज भी है। अपने प्रथम श्रेणी क्रिकेट की शुरुआत मुंबई से करने वाले शार्दूल वर्तमान में भारतीय टीम के एक नियमित सदस्य बन चुके है। आज हम आपकों शार्दूल ठाकुर से जुड़ी बहुत सी जानकारी देने जा रहें है।

शार्दूल ठाकुर का जीवन परिचय

शार्दूल का जन्म 16 अक्टूबर 1991 को महाराष्ट्र के पालघर में हुआ था। इनके पिताजी का नाम नरेंद्र ठाकुर एवं माताजी का नाम हंसा ठाकुर है। लार्ड ठाकुर के नाम से पहचाने जाने वाले शार्दूल ने अपनी मेहनत के दम पर सफलता के नए मुकाम हासिल किए है। शार्दूल ने एक बार स्कूल में क्रिकेट खेलते समय लगातार 6 गेंदों पर 6 छक्के लगाए थे और बता दिया था कि आने वाले समय में उनका सिक्का चलेगा। वैसे तो शार्दूल शुरू से ही बल्लेबाज बनना चाहते थे लेकिन अपने कोच की सलाह पर उन्होंने गेंदबाजी की तरफ ज्यादा ध्यान दिया।

घरेलू क्रिकेट में शार्दूल ठाकुर का आगमन

2012-13 की रणजी ट्रॉफी में शार्दूल ने मुंबई के लिए पर्दापण किया लेकिन उनकी ये शुरुआत कुछ खास नहीं रही और उन्हें 82 की औसत से चार मैचों में केवल 4 विकेट ही प्राप्त हुए। 2013-14 के रणजी सत्र में शार्दूल ने जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए 6 मैचों में 26.25 की औसत से 27 विकेट झटके जिसमें उनके द्वारा एक पारी में 5 विकेट भी लिए गए थे। 2014-15 की रणजी ट्रॉफी के 10 मैचों में उन्होंने 20.81 की औसत से 48 विकेट प्राप्त किये जिसमें उन्होंने एक पारी में 5 विकेट लेने का कारनामा 5 बार किया था।

2013-14 की विजय हजारे ट्रॉफी में उन्होंने मुंबई की तरफ से खेलते हुए लिस्ट ए के लिए पर्दापण किया। 2015-16 के रणजी ट्रॉफी फाइनल मैच में उन्होंने सौराष्ट्र के खिलाफ 8 विकेट झटके और मुंबई को 41वी बार रणजी विजेता बनाने में एहम भूमिका निभाई।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शार्दूल ठाकुर

घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने के कारण शार्दूल का चयन 2016 में भारतीय टीम के वेस्टइंडीज दौरे के लिए हुए पर उस दौर पर उन्हें कोई भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला। जिसके बाद 2017 में श्रीलंका सीरीज के लिए उन्हें भारतीय टीम में चुना गया और 31 अगस्त 2017 को उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में पर्दापण किया। शुरू में शार्दूल 10 नंबर की जर्सी पहनकर मैदान पर उतरते थे लेकिन इस जर्सी को लेकर काफी विवाद छिड़ा क्योंकि ये 10 नंबर की जर्सी सचिन तेंदुलकर पहना करते थे जिसके बाद शार्दूल 54 नंबर की जर्सी पहनने लगे।

21 फरवरी 2018 को शार्दूल ठाकुर ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी-20 में डेब्यू किया। 2018 में हुई निधास ट्रॉफी के एक मैच में श्रीलंका के खिलाफ उन्होंने 27 रन देकर 4 विकेट हासिल किए और मैच को भारत की तरफ मोड़ दिया था। अक्टूबर 2018 में शार्दूल ने वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मैच में डेब्यू किया लेकिन 10 गेंद फेंकने के बाद ही ग्रोइन स्ट्रेन की वजह से उन्हें मैच से बाहर होना पड़ा।

शार्दूल ठाकुर का IPL जीवन

2014 में हुई IPL नीलामी में शार्दूल को किंग्स इलेवन पंजाब ने खरीद लिया था, उन्होंने 2015 आईपीएल सीजन में दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ IPL में डेब्यू किया और 4 ओवर में 1 विकेट हासिल किया। 2017 में राइजिंग पुणे सुपरजायंट ने उन्हें अपनी टीम में शामिल कर लिया। 2018 में ठाकुर चेन्नई सुपरकिंग्स से जुड़ गए और लगातार 4 साल इस टीम के लिए खेले। इसी साल फरवरी में हुई मेगा नीलामी में दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने उन्हें अपनी टीम में शामिल कर लिया है।

Leave a Reply

TheTopBookies
Advertise With Us