Maharastra Cricket Association Stadium, Pune

IPL 2022 के आयोजन के लिए जिन चार स्टेडियम को चुना गया हैं उसमें पुणे में स्थित महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम भी शामिल हैं। ये क्रिकेट स्टेडियम महाराष्ट्र के Gahunje गांव में स्थित हैं जो Pimpri-Chinchwad के नजदीक हैं। ये स्टेडियम पुणे शहर की बाहरी तरह मौजूद हैं और महाराष्ट्र क्रिकेट टीम का घरेलू मैदान भी हैं। इस स्टेडियम के निर्माण से पूर्व पुणे में स्थित नेहरू स्टेडियम महाराष्ट्र क्रिकेट टीम का होम ग्राउंड हुआ करता था। इस स्टेडियम में IPL के साथ इंटरनेशनल मैचों का भी आयोजन किया जाता हैं और भारतीय क्रिकेट टीम तीनों फॉर्मेट के मैच यहां खेल चुकी हैं।

महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम की शुरुआत

इस स्टेडियम के निर्माण के पीछे वजह महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन और पुणे म्युनिसिपल कारपोरेशन के बीच नेहरू स्टेडियम में टिकट बंटवारे का विवाद थी। दरअसल भारत और श्रीलंका के बीच नेहरू स्टेडियम में मैच आयोजित किया जाना था लेकिन टिकट बंटवारे के विवाद के चलते मैच को कोलकाता शिफ्ट करना पड़ा और जिसकी वजह से MCA ने नए स्टेडियम के निर्माण की सोची।

इस स्टेडियम का निर्माण कार्य 14 नवंबर 2007 को शुरू हुआ था और स्टेडियम की शुरुआत 1 अप्रैल 2012 को की गई थी। स्टेडियम के arena को डिज़ाइन ब्रिटिश आर्किटेक्ट सर माइकल होपकिन्स ने किया था और कहा जाता हैं कि Lord’s cricket ground के Mount Stand और इंग्लैंड के साउथम्पटन में स्थित Ages Bowl स्टेडियम को भी इन्होंने ही डिज़ाइन किया था। ये स्टेडियम पुणे वारियर्स इंडिया, पंजाब किंग्स, राइजिंग पुणे सुपरजायंटस और चेन्नई सुपरकिंग्स का IPL में होम ग्राउंड रह चुका हैं।

कब खेला गया था यहां पहला मैच

पुणे के इस नव-निर्मित स्टेडियम में पहला अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच भारत और इंग्लैंड के बीच 20 दिसंबर 2012 को हुआ था, ये एक टी-20 मैच था। इसके बाद यहां पहला एकदिवसीय मैच 13 अक्टूबर 2013 को भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया था। यहां टेस्ट मैचों की शुरुआत 2017 में हुई थी। भारतीय टेस्ट टीम ने यहां पहला टेस्ट मैच 23 फरवरी से 25 फरवरी 2017 के बीच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था। इस पिच पर स्पिनर्स को बहुत ज्यादा मदद मिलने की वजह से 5 दिन चलने वाला टेस्ट मैच 3 दिन से पहले ही खत्म हो गया था। मैच खत्म होने के बाद मैच रेफरी क्रिस ब्रॉड के द्वारा इस पिच को खराब बताया गया था।

क्या हैं मैदान की खासियत

35 एकड़ में स्थित ये स्टेडियम मुंबई-बेंगलुरु हाइवे पर स्थित हैं और आस पास पहाड़ों से घिरा हुआ हैं। स्टेडियम के अंदर दर्शकों के बैठने के लिए सीटिंग सिस्टम इस तरह से बनाया गया हैं कि दर्शक किसी भी कोने में बैठे हो उन्हें बिना किसी बाधा के मैच देखने को मिल सकें। इस स्टेडियम की एक और सबसे बड़ी खासियत इसका rainwater drainage सिस्टम हैं। अक्सर हम देखते हैं कि बारिश होने की वजह से बहुत से मैच रद्द हो जाते हैं लेकिन इस स्टेडियम का रेनवाटर ड्रेनेज सिस्टम इतना बेहतरीन हैं कि अगर भारी बरसात होती हैं तो उसके बंद होने के कुछ ही देर के अंदर आउटफील्ड में जमा पानी सूख जाता हैं ताकि मैच जल्दी से शुरू किया जा सकें।

स्टेडियम में बनें रिकॉर्ड

इस मैदान पर अभी तक 3 टेस्ट शतक लग चुके हैं, ये शतक स्टीव स्मिथ, मयंक अग्रवाल और विराट कोहली ने लगाए हैं। विराट कोहली ने तो यहां 254 रनों की शानदार नाबाद पारी खेली थी। अगर बात एकदिवसीय मैचों की करें तो यहां कुल 5 एकदिवसीय शतक लगें हैं जिनमें 4 शतक भारतीय बल्लेबाजों के बल्ले से निकले हैं। यहां वन-डे मैचों में कोहली ने दो शतक जमाये हैं जबकि केदार जाधव और के एल राहुल ने एक-एक शतक जड़ा हैं। कोहली और जाधव ने 15 जनवरी 2017 को एक ही पारी में इंग्लैंड के खिलाफ शतक जड़ा था। ये केदार जाधव का घरेलू स्टेडियम भी हैं।