Brabourne Stadium, India

ब्रेबौर्न स्टेडियम मुंबई का पहला और देश का काफी पुराना स्टेडियम हैं। ये स्टेडियम देश की आजादी से पहले का हैं और इसका इतिहास भी काफी महत्वपूर्ण रहा हैं। वैसे तो मुंबई में ज्यादातर इंटरनेशनल मैच वानखेड़े स्टेडियम में होते हैं लेकिन एक समय ऐसा भी था जब ये स्टेडियम मुंबई की शान हुआ करता था। आज हम आपकों उसी स्टेडियम के बारें में बताने जा रहें है जिसमें क्रिकेट के अलावा टेनिस और फुटबॉल के मैच भी आयोजित हो चुके हैं।

ब्रेबोर्न स्टेडियम से जुडी जानकारी

ये स्टेडियम भारतीय पुरूष एवं महिला क्रिकेट टीम का होम ग्राउंड हैं। इस स्टेडियम में दर्शकों के बैठने की क्षमता 50000 तक हैं। इस मैदान का स्वामित्व क्रिकेट Club of India (CCI) के पास हैं। स्टेडियम के नार्थ स्टैंड में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) का हेडक्वार्टर हुआ करता था लेकिन 2006 में ये पास ही मौजूद वानखेड़े स्टेडियम में शिफ्ट हो गया था।

1948 से 1972 तक यहां अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैचों के आयोजन होता था। जब CCI और बॉम्बे क्रिकेट एसोसिएशन (BCA) के बीच विवाद बढ़ा तो BCA के द्वारा नए क्रिकेट स्टेडियम (वानखेड़े) का निर्माण करवाया गया जिसके बाद ब्रेबौर्न स्टेडियम में टेस्ट मैच आयोजित होने बंद हो गए थे। बीते वर्षों में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की यहां फिर से वापसी हुई हैं।

कब खेला गया था पहला मैच

ब्रेबोर्न स्टेडियम में पहला अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैच 9 से 13 दिसंबर 1948 के बीच भारत और वेस्टइंडीज के बीच हुआ था। जबकि वानखेड़े स्टेडियम के बन जाने के बाद अगले कुछ वर्षों तक स्टेडियम पर अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं हुए थे। यहां आखिरी टेस्ट 2-6 दिसंबर 2009 के दौरान भारत एवं श्रीलंका के बीच हुआ था।

यहां पहला अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय मैच 23 अक्टूबर 1989 के दिन भारत एवं ऑस्ट्रेलिया के बीच हुआ था तो आखिरी वन-डे इंटरनेशनल 29 अक्टूबर 2018 को भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेला गया था।

इसी मैदान पर पहली बार देश में किसी अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच का आयोजन किया गया था। ये मैच 20 अक्टूबर 2007 को भारत एवं ऑस्ट्रेलिया के बीच हुआ था और ये इस मैदान पर आयोजित हुआ केवल अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच हैं।

मैदान से जुड़े कुछ दिलचस्प किस्से

द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद इसी मैदान पर भारत की पहली होम सीरीज खेली गई थी। 1952 में जब भारतीय टीम ने पाकिस्तान टीम को टेस्ट में हराया तो ये उनकी पाकिस्तान के ऊपर पहली सीरीज जीत थी। इसी मैदान पर 1960 में जब भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट मैच खेला जा रहा था तो जैसे ही भारतीय बल्लेबाज अब्बास अली बेग ने अर्धशतक पूरा किया तो दर्शकों में से एक महिला भागते हुए बीच मैदान पर आई और अब्बास अली को किस किया।

1969 की भारत एवं ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली गई टेस्ट सीरीज के दौरान एक टेस्ट की चौथी पारी में जब भारतीय टीम लड़खड़ा रही थी तो अजीत वाडेकर और श्रीनिवास वेंकटराघवन के बीच 25 रनों की साझेदारी हुई लेकिन जैसे ही वेंकटराघवन को अंपायर के द्वारा आउट दिया गया तो वहां मौजूद दर्शकों ने मैदान के बीच बोतलें फेंकनी शुरू कर दी और कुर्सियों में आग लगा दी थी।

IPL 2022

कोरोना की वजह से BCCI के द्वारा IPL 2022 को केवल चार स्टेडियम में ही आयोजित करने का फैसला लिया गया था, जिसमें से एक स्टेडियम ब्रेबौर्न स्टेडियम भी हैं।